रोटरी क्लब ऑफ दिल्ली द्वारा संचालित रीजेंसी नेक्स्ट प्रोजेक्ट ‘मिशन इन्द्रधनुष’ की बढ़ाएगी पूरे देश में रफ्तार


नई दिल्ली। रोटरी क्लब ऑफ दिल्ली का अभिन्न हिस्सा रीजेंसी नेक्स्ट प्रोजेक्ट एक कार के जरिए पूरे देश में कंट्री अवेयरनेस ड्राइव के माध्यम से बच्चों में संपूर्ण टीकाकरण कवरेज के लिए भारत सरकार के ‘मिशन इन्द्रधनुष’ का संदेश लेकर पहुंच रही है। हाल ही में ‘मिशन इन्द्रधनुष’ अभियान को बढ़ावा देने के लिए रीजेंसी नेक्स्ट प्रोजेक्ट द्वारा एक संदेश कार को रवाना किया गया है। यह कार पूरे देश में जाकर लोगों के बीच बच्चों के टीकाकरण को लेकर जागरूकता पैदा करने का काम कर रही है।

Rotary Club Mission Indradhanush
इस मैसेज कार में जो स्लोगन है वह है ‘5 साल 7 बार- छूटे ना टीका एक भी बार’। इस संदेश कार को विश्व पोलियो दिवस पर हरी झंडी दिखाकर रोटरी इंटरनेशनल साउथ एशिया ऑफिस, ऐरोसिटी से पूर्व रोटरी डिस्ट्रिक्ट गवर्नर दीपक कपूर ने रवाना किया।

इस मौके पर रोटरी क्लब ऑफ़ दिल्ली रीजेंसी नेक्स्ट के अध्यक्ष Ashcharya Khanna ने कहा कि “हमारा प्राथमिक लक्ष्य भारत सरकार के मिशन इन्द्रधनुष” के तहत लोगों के बच्चों के टीकाकरण को लेकर जागरूकता फैलाना है, साथ ही हमारा उद्देश्य टीके के बारे में वंचितों तक इसकी जानकारी पहुंचाकर उनमें भी जागरूकता पैदा करना है।

उन्होंने कहा कि हमारे इस संदेश कार का सीधा सा मतलब लोगों के बीच पहुंचना उन्हें अपने बच्चों के स्वास्थ्य के प्रति सजग करना और टीकाकरण के लिए उन्हें प्रेरित करना है। ताकि जिन बीमारियों से बचाव के लिए सरकार की तरफ से इस कार्यक्रम की शुरुआत की गई है उनतक सीधे तौर पर जानकारी पहुंचे वह जागरूक हों और अपने बच्चे का संपूर्ण टीकाकरण करवाएं। ताकि उन बीमारियों से आनेवाली पीढ़ी को बचाया जा सके जिसके लिए ये टीके दिए जा रहे हैं।

टीकाकरण के लिए कोई अपने निकटतम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र या टीकाकरण बूथ से संपर्क कर सकता है या आगे के विवरण के लिए अपने राज्य के टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकता है। मैसेज कार का ड्राइवर भारत सरकार के यूनिवर्सल इम्यूनाइजेशन प्रोग्राम की जानकारी वाले पर्चे भी वितरित करेगा। ये भी उन्होंने बताया।

राहुल जैन, रीजेंसी नेक्स्ट के मिशन इन्द्रधनुष प्रोजेक्ट के प्रमुख ने बताया कि संदेश कार वर्तमान में रोहिणी, दिल्ली के एमएल सेठी पेट्रोल पंप पर गई। हम अब इसे अलग-अलग धार्मिक स्थानों, पेट्रोल पंपों, शॉपिंग मॉल, बाजारों और विभिन्न रोटरी सम्मेलनों में भी इसी तरह प्रदर्शित करेंगे। हमें लगता है कि प्रतिष्ठित संस्थानों में संदेश कार को पार्क करने से जागरूकता फैलाने में मदद मिलेगी और इस तरह उन लाखों बच्चों के जीवन को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी जिनका टीकाकरण नहीं हो पाता है और वह इन गंभीर बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं।

यह संदेश कार पहले ही इंदौर, आगरा, लखनऊ, प्रयागराज और कोलकाता की यात्रा कर चुकी है।



Supply hyperlink

Recommended For You

About the Author: newsindianow

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *