भरतपुर-अलवर में 500-500 बसें खड़ी, प्रियंका गांधी ने सीएम योगी से कहा- दें अनुमति-500-500 buses parked in Bharatpur-Alwar, Priyanka Gandhi requested CM Yogi | bharatpur – Information in Hindi


भरतपुर-अलवर में खड़ीं 500-500 बसें, प्रियंका गांधी ने CM योगी से कहा- दें अनुमति

प्रियंका गांधी, कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी (File Picture)

भरतपुर और अलवर से 500 बसें उत्तर प्रदेश रवाना होने के लिए तैयार हैं. ये सारी बसें यूपी के बहज गोबर्धन बॉर्डर पर पहुंच चुकी हैं. बसों में यूपी आने वाले प्रवासी मजदूर (Migrant Employees) यात्रा कर रहे हैं.

भरतपुर. भरतपुर और अलवर से 500 बसें उत्तर प्रदेश रवाना होने के लिए तैयार हैं. ये सारी बसें यूपी के बहज गोबर्धन बॉर्डर पर पहुंच चुकी हैं. बसों में यूपी आने वाले प्रवासी मजदूर (Migrant Employees) यात्रा कर रहे हैं. यह सूचना कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के कार्यालय ने ट्वीट कर दी है. ट्वीट में प्रियंका गांधी कार्यालय ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Authorities) से पैदल चल रहे मजदूरों के लिए अनुमति भी मांगी है.

प्रियंका गांधी ने 1000 बस चलाने की मांगी थी अनुमति

प्रियंका गांंधी ने कहा कि यूपी के हर बॉर्डर पर बहुत बड़ी संख्या में अप्रवासी मजदूर इकट्ठा हो गए है. वे यहां धूप और गर्मी में पैदल चलकर पहुंच रहे हैं. आज भी उन्हें बॉर्डर पर घंटों खड़ा रखा जा रहा है. उन्हें उत्तर प्रदेश की सीमाओं में प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है. लॉक डाउन के चलते उनके पास पिछले 50 दिनों से कोई काम नहीं है. उनकी आजीविका के साधन बंद पड़े हैं.

‘ज्यादा से ज्यादा ट्रेन और बसें चलाए योगी सरकार’उन्होंने कहा कि हम जो भी योजनाएं बना रहे हैं, उनमें मजदूरों को जगह नहीं दी जा रही है. उनके लिए कुछ सोचा ही नहीं जा रहा है. मजदूरों को घर भिजवाने की कोरी घोषणाएं और ओछी राजनीति से काम नहीं चलेगा. प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से यह अपील की है कि ज्यादा से ज्यादा ट्रेनें चलाइए और बसें चलाइए ताकि मजदूरों को उनके गांवों तक पहुंचाया जा सके. हमने 1000 बसों की परमिशन मांगी है, हमें सेवा करने दीजिए.

 

प्रियंका ने सीएम योगी को ​पत्र भी लिखा

प्रियंका गांधी ने श्रमिकों और मजदूरों के संबंध में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 16 मई को एक और पत्र लिखकर कहा था कि लाखों मजदूर अपने घर लौट रहे हैं. लेकिन उनके घर लौटने के लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया है. दर्जनों मजदूर सड़क दुर्घटना में मारे जा रहे हैं तो बहुत से कोरोनावायरसकी चपेट में आकर जान गंवा रहे हैं.

 

ये भी पढ़ें: UP: नर्सिंग होम ने गरीब प्रसूता को हाईवे पर तड़पता छोड़ा, नवजात की मौत

झांसी में प्रवासी मजदूरों ने किया जमकर हंगामा, पुलिस ने भांजी लाठियां

Information18 Hindi पर सबसे पहले Hindi Information पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भरतपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First revealed: Might 17, 2020, 12:17 PM IST





Supply hyperlink

Recommended For You

About the Author: newsindianow

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *