धौलपुर में तूफान का कहर: मकान ढहा, मां-बेटे समेत three की दबने से मौत-Rajasthan, Dhaulpur, change in climate, sturdy storm, home collapse, three folks killed, one injured, rescue operation, | jaipur – Information in Hindi


तूफान का कहर: धौलपुर में मकान ढहा, दबने से मां-बेटे समेत 3 की मौत

हादसा सैपऊ के तसिमो गांव में हुआ.

राजस्थान में गुरुवार को विभिन्न इलाकों में बदले मौसम (Climate) के बाद धौलपुर जिले के सैपऊ इलाके में आए तूफान (Storm) ने कहर बरपा दिया. यहां के अचानक आए तूफान के कारण एक पक्का मकान ढह गया, जिससे उसके अंदर बैठे परिवार के लोग मलबे में दब गए.

धौलपुर. राजस्थान में गुरुवार को विभिन्न इलाकों में बदले मौसम (Climate) के बाद धौलपुर जिले के सैपऊ इलाके में आए तूफान (Storm) ने कहर बरपा दिया. यहां के अचानक आए तूफान के कारण एक पक्का मकान ढह गया, जिससे उसके अंदर बैठे परिवार के लोग मलबे में दब गए. हादसे में मां बेटे सहित three लोगों की दर्दनाक मौत (Demise) हो गई है और एक व्यक्ति घायल हो गया. घटना के बाद प्रशासन ने वहां रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया है.

शाम 6 बजे हुआ हादसा
जानकारी के मुताबिक हादसा सैपऊ के तसिमो गांव में हुआ. वहां गुरुवार को शाम को करीब 6 बजे अचानक आए तूफान ने हरविलास कुशवाह की दुनिया उजाड़कर रख दी. तूफान के कारण हरविलास कुशवाह का पक्का मकान धराशाही हो गया. इससे मकान में चारपाई पर बैठी हरविलास की बड़ी बेटी विमला, 11 वर्षीय नाती सत्यवान और 9 वर्षीय पोती सुहानी मलबे में दब गए, जिससे तीनों की मौके पर ही मौत हो गई.

चारपाई पर बैठे हुए थे सभी लोगये सभी लोग तूफान के दौरान घर के अंदर एक चारपाई पर बैठे हुए थे. उनके पास विमला का पति नौनेरा निवासी भीमसेन भी बैठा हुआ था. इसी बची तेज गति से आए तूफान के कारण मकान के ऊपर बनी एक 6 फीट ऊंची दीवार छत पर गिरी. इससे मकान की छत की पट्टियां टूट गई और वह भरभराकर नीचे गिर गई. घर के अंदर यह सभी लोग मलबे में दब गए और वहां चीख पुकार मच गई. हादसे की जानकारी पर ग्रामीण वहां पहुंचे और प्रशासन को सूचना दी. सूचना पर प्रशासन मौके पर पहुंचा और ग्रामीणों के सहयोग से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया. लेकिन तब तक विमला, सत्यवान और सुहानी दम तोड़ चुके थे. पुलिस ने तीनों शवों को स्थानीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है.

भात लेने आई थी विमला
विमला गुरुवार को सुबह ही अपनी ससुराल से पति भीमसेन के साथ पिता के घर आई हुई थी. साथ में उसका 11 वर्षीय बेटा भी था. हादसे में मां बेटे की मौत हो गई है. भीमसेन घायल है. हादसे के बाद गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है.

आखिर दो दिन बाद चूरू में कुछ राहत, पारा three डिग्री गिरा, भरतपुर में बारिश

परिजन ने बनाई दूरी, SDM ने गड्ढा खोदकर किया four माह की मासूम का अंतिम संस्कार

Information18 Hindi पर सबसे पहले Hindi Information पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.


First printed: Could 28, 2020, 8:22 PM IST





Supply hyperlink

Recommended For You

About the Author: newsindianow

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *