दिल्ली हिंसा मामले में ‘पिंजरा तोड़’ संगठन की दो लड़कियों पर कसा पुलिस का शिकंजा, गिरफ्तार


नई दिल्ली। दिल्ली में भड़की हिंसा के शांत होने के बाद से ही इस हिंसा को भड़काने वालों के खिलाफ प्रशासन सख्त हो गई है। इस हिंसा को अपनी हेट स्पीच के जरिए भड़काने वाले पुलिस के निशाने पर हैं और एक-एक कर उनपर पुलिस का शिकंजा कसता जा रहा है।

Pinjra-Tod Group

आपको याद ही होगा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ देश की राजधानी दिल्ली में इस साल फरवरी के महीने में हिंसा भड़क उठी थी। दिल्ली हिंसा मामले को लेकर अभी जांच जारी है और गिरफ्तारियां भी हो रही है। इसी क्रम में अब दिल्ली हिंसा मामले में दो लड़कियों को गिरफ्तार किया गया है।

Delhi Police

दिल्ली पुलिस ने पिंजरा तोड़ संगठन से जुड़ी दो लड़कियां नताशा और देवांगना को गिरफ्तार किया है। दरअसल, जाफराबाद मेट्रो स्टेशन पर सीएए के खिलाफ महिलाओं की अचानक भीड़ जुट गई थी, जिसके बाद हिंसा हुई थी। इस मामले में एफआईआर भी दर्ज है। वहीं दिल्ली हिंसा से इन दोनों लड़कियों के तार जुड़े हुए बताए जा रहे हैं। फिलहाल दोनों को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

Pinjra-Tod Group

दिल्ली हिंसा मामले में नॉर्थ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट पुलिस ने दोनों लड़कियों को गिरफ्तार किया है। दोनों लड़कियों से दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच एसआईटी और दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल भी पूछताछ करेगी। इन दोनों लड़कियों की रविवार को कोर्ट में पेशी होगी।

Delhi Police Van

इससे पहले सूत्रों की मानें तो पुलिस के खुफिया विभाग को यह जानकारी मिली थी कि 22 व 23 फरवरी को जब मौजपुर व जाफराबाद में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन चल रहे थे। उसमें इस संगठन की छात्राएं भी शामिल हुई थीं। इन छात्राओं ने ही प्रदर्शनकारियों को पुलिस पर पथराव के लिए भड़काया था।

Pinjra-Tod Group

बता दें कि पिंजरा तोड़ कॉलेज की छात्राओं का एक ऐसा संगठन है, जिसमें दिल्ली यूनिवर्सिटी के नामी कॉलेज की छात्राएं भी हैं। ये संगठन कॉलेज हॉस्टल के नियमों के खिलाफ जाकर काम करता है और दिल्ली हिंसा में कई बार इस संगठन का नाम सामने आ चुका है। यह डीयू का गैरपंजीकृत संगठन है, जो सरकार विरोधी गतिविधियों में शामिल होता रहता है।





Supply hyperlink

Recommended For You

About the Author: newsindianow

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *