खिलाड़ियों के शिविर को लेकर उत्सुक है दिल्ली कैपिटल्स, अंतिम फैसला आईपीएल जीसी मीटिंग के बाद


नई दिल्ली। बीसीसीआई 19 सितंबर से आठ नवंबर के बीच आईपीएल के 13वें सीजन को कराना चाहती है वहीं दिल्ली कैपिटल्स राष्ट्रीय राजधानी में भारतीय खिलाड़ियों का एक शिविर लगाने पर विचार कर रही है। इस पर हालांकि अंतिम फैसला रविवार को होने वाली आईपीएल गर्वनिंग काउंसिल की बैठक के बाद लिया जाएगा। दिल्ली कैपिटल्स के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि यह इसलिए है ताकि खिलाड़ी एक साथ मिल सकें और मिलकर लय में आने में एक दूसरे की मदद कर सकें वो भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करते हुए।

DELHI CAPITALS
अधिकारी ने कहा, “बीसीसीआई ने हमें तारीखों के बारे में बता दिया है लेकिन हम गर्वनिंग काउंसिल की बैठक से निकलने वाली कुछ और जानकारी का इंतजार कर रहे हैं। एक बार यह हो जाए, अंतिम फैसला लिया जाएगा। अभी तो हम 15 अगस्त से कैम्प के बारे में सोच रहे हैं, लेकिन बैठक के बाद इसमें बदलाव हो सकता है। एक बार मालिकों को बीसीसीआई से निर्देश मिल जाएंगे तो हम तैयारी शुरू कर देंगे।”

अधिकारी से जब पूछा गया कि क्या बैठक में लिए जाने वाले फैसलों का रणनीति पर असर पड़ सकता है तो उन्होंने कहा, “बैठक में इस संबंध में कई तरह की चीजें स्पष्ट हो जाएंगी कि यूएई में किस तरह से व्यवस्था होगी। इसके बाद हम जल्दी शहर में कैम्प लगाने के बारे में सोच सकते हैं या फिर यहां इकट्ठा होकर जल्दी यूएई जाने के बारे में सोच सकते हैं। एक चीज साफ है कि विदेशी खिलाड़ी सीधे यूएई आएंगे।”

Delhi Capitals
उन्होंने कहा, “हमें इस बारे में स्पष्टीकरण चाहिए कि बबल किस तरह से काम करेगा, बीसीसीआई ने किस तरह से रोडमैप बनाया है और हमारे द्वारा बनाए गए ब्लूप्रिंट को किस तरह से इसमें शामिल किया जाएगा। लेकिन हां, जैसी अभी स्थिति है, उसे देखते हुए हम यूएई जाने से पहले छोटे कैम्प पर काम कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “कई भारतीय क्रिकेटर अपने फ्लैट्स में बंद हैं और विचार यह है कि धीरे-धीरे उन्हें लय में लाया जाए। यह लोग पेशेवर हैं इसलिए घर में लंबे समय तक रहने के बाद यह मानसिक पहलू की बात ज्यादा हो जाती है। साथ ही आपकी जगह पर कैम्प करने से मदद मिलती है।” कैम्प की जगह के बारे में पूछा गया तो अधिकारी ने कहा कि पहले इसे कर्नाटक के बेलारी जिले में स्थित जेएसडब्ल्यू स्पोर्टस सेंटर में लगाए जाने पर विचार चल रहा था लेकिन महामारी के कारण इसे रद्द कर दिया गया।

IPL 2020
अधिकारी ने कहा, “जेएसडब्ल्यू स्पोर्टस सेंटर में जो जिम है वो देश की सर्वश्रेष्ठ जिमों में से एक है और दिल्ली कैपिटल्स के कुछ खिलाड़ियों ने इसे पहले उपयोग में भी लिया है। हम पहले वहां कैम्प के बारे में सोच रहे थे लेकिन देश का दक्षिण इलाका बुरी तरह कोरोनावायरस की जद में होने के कारण इसे रद्द करना पड़ा।”

इस संबंध में जब दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के अधिकारियों से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि फ्रेंचाइजी की तरफ से कोई संदेश नहीं आया है, लेकिन संघ खिलाड़ियों की मेजबानी के लिए पूरी तरह से तैयार है। डीडीसीए अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “हमें दिल्ली कैपिटल्स से अभी तक कोई संदेश नहीं मिला है लेकिन कोटला में उनका स्वागत है। यह उनका घरेलू मैदान है और वो जब चाहें तब यहां आ सकते हैं।”



Supply hyperlink

Recommended For You

About the Author: newsindianow

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *